Jokes Chutkule

Explore Our Latest 2020 Jokes Chutkule, Followed and Like by Many People on Whatsapp, Facebook, and Other Social Site, So See more ideas about Jokes Chutkule By Scrolling Below.


एक डॉक्टर शायरी के मूड में था,

अब देखिये उसने दवाईयां कैसे लिखी

कैसे समझाया अपने मरीज को...😂

.

.

दिल बहला के मोहब्बत को न धमाल करें,

सीरप को अच्छी तरह हिला के इस्तेमाल करें..😜

.

दिल मेरा टुट गया उठी जब उसकी डोली,

सुबह, दोपहर, शाम बस एक - एक गोली...😝

.

.

लौट आओ कि मोहब्बत का सुरूर चखे,

तमाम दवाईयां बच्चों की पहुंच से दूर रखें...😁

.

.

दिल मेरा इश्क करने पर रजामंद रहेगा,

इतवार के दिन अस्पताल बंद रहेगा...!

😂😂😂😝😝😜


**********************************************


हम जीते एक बार हैंमरते एक बार हैं".....


प्यार भी एक बार करते हैं"...


शादी भी एक बार ही करते हैं"...


तो फिर ये EXAMS बार-बार क्यों?


जागो स्टूडेंट्स (Students) जागो...!!!


😂😂😂😜😉.......!!!


*******************************************


Teacher - कल स्कूल क्यूँ नहीं आया..?

Boy - मेरी तबियत ठीक नहीं थी..

Teacher - अच्छा..! तो कल डाक्टर की दवाई वाली पर्ची ले कर आना..!

Boy - मैं तो झाड़ फूंक करने वाले बाबा के पास गया था, उसने जो भभूत दी है वो ले कर आऊं...

😀😊☺😉😃😁😂


********************************


बंटी-ओए तूने अपने सगाई क्यों तोड़दी?

पप्पू-अरे यार,उसका कोई बॉयफ्रेंड नहीं था।

बंटी - तो?

पप्पू-जो आज तक किसी की न हो सकी,वो मेरी क्या होगी?

 

😀😀😀😀😀😀😀😀😀😀😀


********************************


टीचर: अगर तुम एक जंगल में हो और वहां शेर आ जाए तो तुम क्या करोगे?


लड़का: सर मैं पेड़ पर चढ़ जाऊंगा।


टीचर: अगर वह वहां भी आ जाए तो?


लड़का: तो मैं पानी में कूद जाऊंगा?


टीचर: और अगर वह पानी में भी आ जाए तो?


लड़का: सर, पहले आप यह बताओ कि शेर क्या आपका रिश्तेदार है जो आप उसकी तरफदारी किये जा रहे हो?


********************************

पडोसन के फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट करते ही मन मयूरा नाच उठा..


फौरन इनबॉक्स में सलाम ठोक दिए..

तुरन्त जवाब भी आ गया..

रोज गुफ्तगू होने लगीं..

एक दूसरे का ख्याल रखा जाने लगा..


क्या बनाया.. क्या खाया..?

कौन सी ड्रेस में अच्छी लगती हूँ.. वगेरह.. वगेरह..


अक्सर ताड़ने के मौके ढूंढे जाने लगे..


एक दिन अचानक एक फंक्शन में मुलाकात हो गई..

हिम्मत जुटाकर उनके करीब जाकर कह ही दिया..


"भाभी जी.. फेसबुक पर तो आपका बड़ा रुतबा है..

एक-एक पोस्ट पर सेकड़ो लाइक्स.. कमेंट्स.. शेयर..

क्या कहने.. क्या कहने.."


वो बोलीं.. "अरे कहाँ भाई साहब..

मुझे तो घर के कामों से वक्त ही नही मिल पाता..


मेरी आई डी तो आपके भाईसाहब चलाते है.."


सन्नाटा.......😢

No comments:

Post a comment